Happy Father's Day

Wednesday, June 24, 2015
Source: Yummy
पिता को गले लगाना सबसे बेहतर उपहार है  एक पिता के लिए फादर्स डे पर । शीर्षक पढ़ते ही ज़हन में वही व्हाट्सऐप सन्देश आता है जिसमे पिता दुकानदार से अपना फ़ोन दिखाकर पूछता है कि  क्या यह ख़राब है? दुकानदार के कहने पर कि नहीं फ़ोन तो बिलकुल ठीक है पिता हैरान हो कर कहते है कि फिर मेरे बच्चो का फ़ोन क्यों नही आता?

इस छोटे से सन्देश से आज के युग के वृद्ध पिता जिन्होंने अपना पूरा जीवन अपने बच्चो को पढ़ा लिखा कर उनके पैरो पर खड़ा करने के लिए सब कुछ न्योछावर कर दिया के जीवन की त्रासदी का  पता चलता है । पिता अपने बच्चो की हर ख़ुशी में अपनी ख़ुशी ढूंढ़ते है और वही बच्चे अपने जीवन की राहों में आगे बढ़ने के लिए अपने बढ़ो को वृद्धाश्रम में छोड़ कर उनके लिए खर्च की व्यवस्था करके अपने कर्त्तव्य की इतिश्री समझ लेते है।

एक बार मुझे एक वृद्धाश्रम में जाने का मौका मिला। वह रहने वाले सभी वृद्ध पुरुषो व् स्त्रियों में से अधिकतर लोगो के बच्चे उच्च वर्ग के संभ्रात वर्ग से जुड़े हुए थे। उन सबके पास धन सम्पदा तो बहुत थी किन्तु वृद्धो को देने के लिए वक़्त नही था।  मेरा दिल तो तब बहुत द्रवित हो गया जब किसी भी माता या  पिता ने अपने बच्चो को किसी प्रकार का दोष नही दिया। सब अपनी ज़िन्दगी में अपने बच्चो के लिए खुशियाँ मांगते ही मिले।

अपने बड़ो  का दर्द हम शायद तभी समझ सकते है जब हम खुद पिता बनते है।  तब हमारा बचपन हमारी आँखों के सामने वापिस चलचित्र की तरह घूमने लगता है।  अगर अपने पिता के किये उपकारों का बदला हम देना भी चाहें तो नही दे सकते क्योंकि पिता का तो नाम ही देना है।  हम कुछ भी कितना भी कीमती तोहफा आने पिता के लिए हेज दे वह उन्हें उतना सुकून नहीं देगा जितना फादर्स डे के दिन अचानक से पिता के सामने पहुंच कर उनके गले से लग कर हैप्पी फादर्स डे अभिवादन करने पर उन्हें मिलेगा।  उनके हर्ष और ख़ुशी का अंदाज़ा भी नही लगाया जा सकता।

ज़िन्दगी में जिनसे हम सदेव लेते रहे अपनी ज़रूरतों के लिए उनसे मांगते रहे आज उनकी ज़रूरत हमारा प्यार, हमारी देखबाल है।  यू तो हमारा फ़र्ज़ बनता है के हम ज़िन्दगी के हर मोड़ पर अपने बुज़ुर्गो के साथ हों लेकिन किसी ख़ास दिन पर उनके गले से लग कर उन्हें ये एहसास दिलाना कि वो हमारे लिए वो बहुत  ख़ास है, फादर्स डे मानाने का सबसे अच्छा तरीका है। 

This father’s day, I am expressing my love towards my dad by participating in the #HugYourDad activity at BlogAdda in association with Vicks.


4 comments:

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...